Total Pageviews

Saturday, May 30, 2015

Animation of Color Vision

रंगों की दृष्टि (कलर विज़न) को समझाने के लिए नीचे सिमुलेशन दिया गया है।  हम जानते हैं कि श्वेत प्रकाश 7 रंगों के प्रकाश से मिलकर बना होता है।  

ये 7 रंग क्रमानुसार "बैंगनी, नीला, आसमानी, हरा, पीला, नारंगी, लाल" होते हैं।  जिन्हें संक्षेप में "बैंनीआहपीनाला या VIBGYOR" कहा जाता है।

1. दायीं ओर सफ़ेद और पीले बल्ब बने हैं।  सबसे पहले सफ़ेद बल्ब को क्लिक करें टोर्च पर दिए गए लाल बिंदु को क्लिक करें, आप पाएंगे कि टोर्च से श्वेत प्रकाश निकलता है जो हमारी आंख में पहुँचता है और मस्तिष्क को श्वेत रंग का संवेदन होता है।

2. दायीं ओर सबसे नीचे Filter Color के पास लगे स्टैंड पर क्लिक करके आँख के सामने एक फ़िल्टर कांच लगाएं।  इस फ़िल्टर का रंग निर्धारित करें।  माना की आपने नीला रंग सेट किया तो टोर्च से निकलने वाले श्वेत प्रकाश में से नीले को तो यह फ़िल्टर पार होने देगा किन्तु शेष रंगों को अवशोषित कर लेगा जिससे हमारी आंख में केवल नीले रंग का प्रकाश पहुंचेगा जिससे मस्तिष्क को नीले रंग का संवेदन होगा।  इसी प्रकार से फ़िल्टर के रंगों को बदल कर देखें।

3. टोर्च के नीचे बने 2 बॉक्स में दूसरे बॉक्स को क्लिक करने पर प्रकाश किरणों की जगह बिन्दुओं के रूप में प्रकाश कण 'फोटोन' जाते हुए दिखाई देंगे।  अलग अलग रंग के कण अलग अलग रंग के प्रकाश के फोटोनों को प्रदर्शित करते है।

4. अब बायीं ओर दिए गए पीले बल्ब को क्लिक करके बल्ब के रंग को बदलें। पीले रंग के बल्ब से पीला प्रकाश निकलता है जो पीले फ़िल्टर से बाहर निकल जायेगा तथा मस्तिष्क को पीले रंग का संवेदन होता है।  

फ़िल्टर का रंग बदल कर नीला कर देने आप पाएंगे कि पीला प्रकाश नीले फ़िल्टर से अवशोषित हो जायेगा और आँख में कोई प्रकाश नहीं पहुंचेगा तथा मस्तिष्क को काले रंग का संवेदन होता है।  इसी तरह फ़िल्टर एवं बल्ब का रंग बदल कर दोहराएँ।

आप पाएंगे की फ़िल्टर एवं प्रकाश का रंग समान होने पर हमें उस रंग का संवेदन होता है अन्यथा काले रंग का।

प्राथमिक रंग-

प्रकाश के 3 प्राथमिक रंग होते हैं-

1. लाल (RED)                          2. हरा (GREEN)               3. नीला (BLUE)

इन्हें RGB से व्यक्त करते हैं। इन तीन रंगों के प्रकाश से मिलकर ही अन्य रंग बनते हैं।

द्वितीयक रंग-

प्रकाश के तीन द्वितीयक रंग होते हैं- 

1. पीला (YELLOW)                 2. मेजेंटा (Magenta)        3. (CYAN) सियान

 
इन्हें CMY कहते हैं ।

आईये देखें किन दो प्राथमिक रंगों के प्रकाश के मिलने से कौनसा 'द्वितीयक रंग' का प्रकाश बनता है-

1. लाल + नीला = मेजेंटा

2. हरा + लाल = पीला

3. हरा + नीला = सियान

तीनों प्राथमिक रंगों के प्रकाश को मिलाने पर श्वेत प्रकाश बनता है।  आईये करके देखें-

सिमुलेशन के ठीक नीचे बीच में तीन टोर्च का निशान बना है।  इसे क्लिक करेंगे तो स्क्रीन पर तीन RGB रंगों की टोर्च मिलेगी।  इनमें से कोई दो रंग की टोर्च के पास लगे आइकॉन से प्रकाश को गिराएँ तथा अलग अलग रंगों के बनने की क्रिया समझ सकते हैं।

 

No comments:

Post a Comment