Total Pageviews

Friday, January 3, 2014

***भारतीय वैज्ञानिकों की खोज- फ्लोरेसेंट लैंप जैसा व्यवहार करते है माँसाहारी पौधे***



भारतीय वैज्ञानिकों ने यह खोज करने का दावा किया है कि कुछ मांसाहारी पौधे अपने शिकार को आकर्षित करने के लिए नीले रंग के फ्लोरेसेंट लैंप जैसा व्यवहार करने लगते हैं। भारतीय वैज्ञानिकों के एक शोध दल द्वारा पराबैंगनी प्रकाश (अल्ट्रा वायलेट लाइट) में किए गए शोध में यह पाया है कि इन पौधों से नीले रंग का प्रकाश निकलने लगता है जिससे कीट आदि आकर्षित होते हैं।
अब तक ये माना जा रहा था कि मांसाहारी पौधे अपने रस, रंग और सुगंध के जरिए जीवों को अपनी ओर आकर्षित करते हैं, लेकिन इस नए अध्ययन के अनुसार पौधे अपना रंग भी बदलने लगते हैं।



**उत्सर्जित प्रकाश करता है रात में शिकार में मदद ***

केरल के तिरुअनंतपुरम स्थित जवाहर लाल नेहरू ट्रॉपिकल बोटॉनिक गॉर्डेन एंड रिसर्च इंस्टीच्यूट के वैज्ञानिकों का ये शोध अध्ययन प्लांट बॉयोलॉजी जर्नल में प्रकाशित हुआ है।
शोध दल के सदस्य डॉ. साबुलाल बेबी के अनुसार “अब तक मांसाहारी पौधों के बारे में ये जानकारी नहीं थी कि उनसे रोशनी भी निकलती है। हमारी जानकारी के मुताबिक पहली बार ऐसा अध्ययन हुआ जो यह बताता है कि मांसाहारी पौधे से तेज रोशनी भी निकलती है।”
इस दल ने पाया है कि इन पौधों में आण्विक प्रक्रिया के चलते नीली रोशनी निकलती है। नेपेनथीस, साराकेनिया और वीनस फ्लाइट्रैप्स नामक पौधों में यह गुण पाया गया है।
इन वैज्ञानिकों ने जब वीनस फ्लाइट्रैप्स नामक पौधे का निरीक्षण 366 नेनो मीटर तरंगदैर्ध्य की पराबैंगनी किरणों (अल्ट्रावायलेट किरणे) के बीच किया तब उन्हें इस नवीन जानकारी का पता चला।
इन पौधों से निकलने वाली नीली रोशनी से, खासकर रात्रि में, कई जीव जंतु पौधे की तरफ आकर्षित होते हैं। विदेश के कई वैज्ञानिकों ने इस खोज को महत्वपूर्ण बताया है तथा कहा है कि इससे इस प्रकार के पौधों और इस तरह का प्रकाश उत्पन्न करने वाले अन्य जीवों के बारे में अनुसंधान के नए आयाम खुलेगे।
विस्तार से यहाँ भी पढ़ सकते हैं-
http://newswatch.nationalgeographic.com/2013/02/25/carnivorous-plants-glow/

No comments:

Post a Comment