Total Pageviews

Thursday, December 3, 2009

विश्वव्यापी बाज़ार व्यवस्था के चलते आज

विश्वव्यापी बाज़ार व्यवस्था के चलते आज शिक्षा के मायने बदल रहे हैं । आज शिक्षा ज्ञान के लिए नही होकर डिग्री के लिया हो गई हैं । आज शिक्षा के क्षेत्र बड़े व्यापारिक घरानों का आजाना हमारे लिया एक चुनोती हैं । लक्ष्य युक्त शैक्षिक वातावरण को प्राप्त करना हर स्कूल का लक्ष्य होना चाहिए । बाज़ार मैं जब हम कुछ खरीदते हें तो उसकी गुणवत्ता देखते है ऐसे मैं अभिभावक अपने बच्चो की शिक्षा मैं समझोता कैसे कर सकता हैं। शिक्षा के फिएल्ड में आने वाले ब्रांड नेम हमारे लिया चुनौती है .इसका मुकाबला करने के ली सृजनशील शिक्षको को आगे आना होगा । हम आपने सिमित साधनों और सामाजिक प्रतिब्ध्ताओ के साथ एक जुट होकर कर सकते हैं

2 comments:

  1. pramod bhai
    aapki baat sahi hain main aap se itefak rakhta hoon. ab rajasthan ke srijansheel sathio ko ek jut ho jana chahiye.

    ReplyDelete
  2. एकदम दुरुस्त कहा प्रमोद भाई । अपनी बात को आगे बढ़ाते रहिए।

    ReplyDelete